रुख़सती

रुख़सती चाहता है दिल सारी मसरूफ़ियत को अलविदा कह दूँ आख़िरी सलाम कह दूँ मैं उलझनों को और बेसबब दिल … More

सादगी

यूँ तो बेमिसाल है हर शह दुनिया मे जो सादगी से सराबोर हो उस ख़ूबसूरती की बात ही कुछ और … More

क़ुदरत

कई बार मिलता हूँ सुकून से मैं जब भी ख़ूबसूरती मिल जाती है बहाने से.. ख़ामोश हो जाता हूँ काँटों … More