इंसान

prayer.JPG

न ज़माने में मशहूरी हो

न लियाकत का इल्म हो

न शक्ल का हिसाब रहे

न अक्ल का घुमान हो

न नाम की परवाह करूँ

न तमगों की उम्मीद हो

ना रखूं हिसाब गुर्बत का

  न दौलतमंदी में आबाद रहूं

न शिद्दत की गहराई में उतरूँ

न बेपरवाही का नकाब ओढूँ

न खूबसूरती पर फिदा रहूँ

न नापसंदीदा से गुरेज हो

इंसान हूँ, ये याद रहे

अपनी कमियों का आईना

अपने साथ रखूं….।

Image source- Google

2 Comments

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s